spotify
Home Doctors Speak – Videos Chemotherapy vs Hormone Therapy for Breast Cancer | Dr. Manish Singhal

Chemotherapy vs Hormone Therapy for Breast Cancer | Dr. Manish Singhal

स्तन कैंसर के लिए कीमोथैरेपी और हॉर्मोन थैरेपी में अंतर जानें! इस वीडियो में, आप उपचार के प्रत्येक विकल्प के जोखिमों और लाभों के बारे में जानेंगे। इस बारे में जानकारी प्राप्त करें कि किस प्रकार की चिकित्सा आपके लिए सही है और अपने स्वास्थ्य के बारे में शिक्षित निर्णय लें। इन दो उपचार विकल्पों के बारे में अधिक समझने के लिए अभी देखें ताकि आप आत्मविश्वास से चुन सकें कि आपके लिए सबसे अच्छा क्या है!
स्तन कैंसर एक प्रकार का कैंसर है जो स्तन के ऊतकों में कोशिकाओं को प्रभावित करता है। यह महिलाओं में सबसे आम प्रकार के कैंसर में से एक है, और यह पुरुषों में भी हो सकता है, हालांकि यह कम आम है। स्तन कैंसर के लिए कई उपचार विकल्प उपलब्ध हैं, जिनमें कीमोथेरेपी और हार्मोन थेरेपी शामिल हैं। ये दो उपचार कैंसर कोशिकाओं को मारने और कैंसर के वापस आने के जोखिम को कम करने के लिए अलग-अलग तरीकों से काम करते हैं।
कीमोथेरेपी एक प्रकार का कैंसर उपचार है जो कैंसर कोशिकाओं को मारने के लिए दवाओं का उपयोग करता है। दवाएं आमतौर पर अंतःशिरा (एक नस के माध्यम से) या मौखिक रूप से (मुंह से) दी जाती हैं। कीमोथेरेपी का उपयोग स्तन कैंसर के सभी चरणों के इलाज के लिए किया जा सकता है, और इसे अक्सर सर्जरी और विकिरण जैसे अन्य उपचारों के संयोजन में प्रयोग किया जाता है।
कीमोथेरेपी तेजी से विभाजित होने वाली कोशिकाओं पर हमला करके काम करती है, यही वजह है कि यह कैंसर कोशिकाओं के खिलाफ प्रभावी है। हालांकि, कीमोथेरेपी स्वस्थ कोशिकाओं को भी नुकसान पहुंचाती है जो जल्दी से विभाजित होती हैं, जैसे कि बालों के रोम, पाचन तंत्र और अस्थि मज्जा में। इससे दुष्प्रभाव हो सकते हैं, जैसे बालों का झड़ना, मतली, उल्टी और कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली।
हार्मोन थेरेपी एक प्रकार का उपचार है जो शरीर में हार्मोन की मात्रा को अवरुद्ध या कम करके काम करता है। हार्मोन थेरेपी का उपयोग अक्सर स्तन कैंसर के इलाज के लिए किया जाता है जो हार्मोन रिसेप्टर पॉजिटिव होता है, जिसका अर्थ है कि कैंसर कोशिकाओं में एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन जैसे हार्मोन के लिए रिसेप्टर्स होते हैं। ये हार्मोन स्तन कैंसर कोशिकाओं के विकास को उत्तेजित कर सकते हैं, इसलिए उन्हें अवरुद्ध या कम करने से कैंसर के विकास को धीमा करने में मदद मिल सकती है।
हार्मोन थेरेपी आमतौर पर एक गोली या इंजेक्शन के रूप में दी जाती है, और इसका उपयोग स्टैंडअलोन उपचार के रूप में या अन्य उपचारों जैसे कीमोथेरेपी या सर्जरी के संयोजन में किया जा सकता है। हार्मोन थेरेपी के दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं, जैसे गर्म चमक, वजन बढ़ना और मूड में बदलाव।
कीमोथेरेपी और हार्मोन थेरेपी दोनों स्तन कैंसर के लिए प्रभावी उपचार हो सकते हैं, और सबसे अच्छी उपचार योजना व्यक्तिगत रोगी और उनके कैंसर के चरण और प्रकार पर निर्भर करेगी। मरीजों के लिए यह महत्वपूर्ण है कि वे अपनी स्वास्थ्य देखभाल टीम के साथ अपने सभी उपचार विकल्पों पर चर्चा करें ताकि उनकी विशिष्ट स्थिति के लिए सर्वोत्तम कार्रवाई का निर्धारण किया जा सके।

Quick Book

Request A Call Back

Close